Posted in हिन्दी कविता, blog

भारत के राष्ट्रपिता को श्रद्धांजलि

Image credit: Google

क्या श्रद्धांजलि दूँ उनको क्या लिखूं उनके बारे में

ख़ुद दो हाथ से लिखते थे क्या मैं लिखूं उनके बारे में

सत्य, अहिंसा, प्रेम, धर्म, जैसे लगाते थे नारे

जिसके आगे तोप, बारूद, और गोरे भी हारे

बुरा मत देखो, बुरा मत सुनो, बुरा मत बोलो

सीख सीखाते बापू के तीन बंदर

आज अन्याय देखकर अँधे बन बैठे हैं सब लोग

मदद के लिए पुकारती आवाज़ को अनसुना करते हैं लोग

बात बात पर अशिष्ट भाषा का प्रयोग करते हैं लोग

क्या यही सीख ली इन बंदर से?

पूरा जीवन बिता दिया हमें आज़ाद करने में

आज वही आज़ादी का फ़ायदा उठा रहे हैं लोग

मिटाया उन्होंने ऊँच-नीच के भेदभाव को

बढ़ाया हमने ग़रीब-तवंगर के भेदभाव को

स्वदेशी उत्पादन को अपनाया ख़ुद चरखा चलाकर

भारतीय उद्योग को क्या उपहार देंगे हम विदेशी अपनाकर!

साफ रखें सब घर, गली, आँगन, उद्यान

सच में यही है स्वच्छ भारत अभियान

नहीं हराया जाता है किसी को हिंसा से

जीता जा सकता है किसी को अहिंसा से

आज़ादी के लिए कई बार गए है जेल किया है आमरण अनसन

आज एक दिन के व्रत पे भी नहीं कर पा रहे हैं अनसन!

तो आओ अपनाएं गांधी के विचारों को आज

शायद यही दी जाए उनको श्रद्धांजलि आज।

© Jalpa lalani ‘Zoya’

शुक्रिया

Author:

I am a tuition teacher and a published author on Amazon. Read my books of Hindi poetries & Shayari. Three books have been published on Amazon and two books on notionpress. Which are as follows: 'कुछ अनकहे जज़्बात' / 'आख़िर दिल है हिन्दुस्तानी'-वतन की खुश्बू /'ऊँची उड़ान'- with the wings of patience /'तक़दीर से उम्मीद'/ 'आगाज़-ए-शायरी'. Many compositions published on various well-known forums. Participated in many competitions and got awards and certificates. I continued to put life experiences into words that are simple, beautifully provided by God. I hope to reach the heart of the readers.

27 thoughts on “भारत के राष्ट्रपिता को श्रद्धांजलि

  1. Beautiful Zoya.

    He has been my role model all my adult life. My Guru, Paramahansa Yogananda, called him a saint. His Experiments with Truth was like a holy book for me 🙏

    Liked by 2 people

    1. Thank you.🙏
      Gandhi ji will be the role model of almost everyone. He was a great spiritual leader. Yeah it’s a most inspiring book that everyone should read. This book was first written in Gujarati language. I am from Gujarat and belong to a small town located near Porbandar (birthplace of Gandhiji). It’s a proud for me.😊

      Liked by 1 person

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s